Facebook Status In Hindi, Fb Status [ProShayari.com]

Facebook Status In Hindi, Fb Status-Read the best Facebook status in hindi, which you can copy and use on your FB profiles. These statuses are cute, best and some are helpful with the attitude showcase. Facebook is the most used social networking website these days, so everyone has a profile. At times, we want to post a picture with a caption or quote, and can’t find one in hindi available. Although we can type our own Facebook status or picture captions but they may have errors in spellings, or we may be missing hindi font. The list below will help you in such situation. We are categorising the list of hindi statusfor Facebook.

Facebook Status In Hindi

लोग अपनी औकात दिखा ही देते है चाहे जितनी मर्जी शिद्दत से रिश्ते निभा लो ??

चलो फिर से मुस्कुराएँ और लोगो को बिना माचिस फिर से जलाएँ ??

आजकल लोग अपना ज्यादातर समय अनजान लोगों को impress करने में और अपनों को ignore करने में निकाल देते हैं ? ? ?

आप भी समझ लो मुझको समझाने के बाद.. इंसान मजबूर हो जाता है दिल आने के बाद ? ? ?

हम दुनिया के सामने हाथ नहीं जोड़ते, वरना काम निकल जाने के बाद दुनिया वाले हाथ तोड़ देते है? ?

समन्दर में तैरने वाले, कुओं और तालाबों में डुबकियाँ नहीं लगाया करते ??

डरे हुए लोग अकसर अल्फ़ाज़ों के पीछे छुपते हैं ??

Attitude तो बचपन से है, जब पैदा हुआ तो डेढ़ साल मैंने किसी से बात नही की । ?

भीङ में खङा होना मकसद नहीं हैं मेरा ,बलकि भीङ जिसके लिए खडी है वो बनना है मुझे ॥।

Dekh Babe, नमक स्वाद अनुसार और अकड़ औकाद अनुसार ही अच्छी लगती है

हक़ से दो तो तेरी नफरत भी कुबूल है हमें , खैरात में तो हम तुम्हारी मोहब्बत भी न लें!!!

मेरे मिज़ाज को समझने के लिए, बस इतना ही काफी है, मैं उसका हरगिज़ नहीं होता….. जो हर एक का हो जाये।

सीढ़ियाँ उन्हे मुबाराक जिन्हें छत पर जाना हो…मेरी मंज़िल तो आसमाँ है..मुझे रास्ता खुद बनाना है॥

दूसरों के प्रति हमारा व्यवहार ये निश्चित करता हैं की हमारे प्रति उनका व्यवहार कैसा होगा!!

“बात” उन्हीं की होती है, जिनमें कोई “बात” होती है..!

हम भी दरिया है, हमे अपना हुनर मालूम हे। जिस तरफ भी चल पडेंगे, रास्ता हो जायेगा।

सुधरी हे तो बस मेरी आदते… वरना मेरे शौक.. वो तो आज भी तेरी औकात से ऊँचे हैं…!!!

अकड़ती जा रही हैं हर रोज गर्दन की नसें, आज तक नहीं आया हुनर सर झुकाने का ..

पाना है मुक्काम ओ मुक्काम अभी बाकी है अभी तो जमीन पै आये है असमान की उडान बाकी है !

खरीद लेंगे सबकी सारी उदासियाँ दोस्तों ! सिक्के हमारे मिजाज़ के, चलेंगे जिस रोज !!

महानता कभी ना गिरने में नहीं है, बल्कि हर बार गिरकर उठ जाने में है।

हारने वालो का भी अपना रुतबा होता हैं …मलाल वो करे जो दौड़ में शामिल नही थे..

आसमान में उड़ने वाले जरा ये खबर भी रख….!! जन्नत पहुँचने का रास्ता मिट्टी से ही गुजरता है….!!

मत पूछना मेरी शख्सियत के बारे में ..हम जैसे दिखते है वैसे ही लिखते है …!

गूलाम हूं अपने घर के संस्कारों का .. वरना मै भी लोगों को उनकी औकात दिखाने का हूनर रखता हुं

जीत हासिल करनी हो तो काबिलियत बढाओ । किस्मत की रोटी तो कुत्तों को भी नसीब हो जाती है

अक्सर वही लोग उठाते हैं हम पर उंगलिया, जिनकी हमें छूने की औकात नहीं होती।

लोगो से कह दो हमारी तकदीर से जलना छोड़ दे। हम घर से दवा नही ‘माँ की दुआ’ लेकर निकलते है।

पियो सर उठा के , जियो लडखडा के

हुकुमत वो ही करता हे जिसका दिलो पर राज होता हे !!!! वरना यू तो गली के मुर्गो के सिरो पे भी ताज होता हे ……!!!

आदत नई हमे पीठ पीछे वार करने की !!दो शब्द काम बोलते है पर सामने बोलते है !!

वो लाख तुझे पूजती होगी मगर तू खुश न हो ऐ खुदा.. वो मंदिर भी जाती है तो मेरी गली से गुजरने के लिए..!!

रियासते तो आती जाती रहती हे,मगर बादशाही करना तो..आज भी लोग हमसे सीखते हे!

“साला मै कब का ‪#‎यमनगरी‬ जाने को बेचैन हू…लेकिन ‪#‎यमराज‬ कहते है…तू आने के लिये नही…भेजने के लिये पैदा हुआ है..

मोहबत है इसलिए जाने दिया …. ज़िद होती तो बाहों में ले लेते।

दुनिया में आपकी कला से भी ज्यादा चीजों के प्रति आपका नजरिया जरुरी होता हैं।

जैसा भी हूं अच्छा या बुरा अपने लिये हूं, मै खुद को नही देखता औरो की नजर से..!!

हम जैसे सिरफिरे ही इतिहास रचते हैं !समझदार तो केवल इतिहास पढ़ते हैं !!नाम इसलिए उँचा हैं..हमारा… क्योंकि……हम ‘बदला लेने की नही ,’बदलाव लाने, की सोच रखते हैं..

हम वहीँ है जो दूसरों को दर्शाते हैं. इसलिए हमें इसमें सावधानी बरतनी चाहिए॥

शहर भर मेँ एक ही पहचान है ‘हमारी’….सुर्ख आँखे,गुस्सैल चेहरा और ”नवाबी अदायेँ’!

रोज स्टेटस बदलने से जिंन्दगी नहीं बदलती,जिंदगी को बदलने के लिये एक स्टेटस काफी है..!!

इरादे सब मेरे साफ़ होते हैं…….इसीलिए, लोग अक्सर मेरे ख़िलाफ़ होते हैँ…!!!

हमारे जीने का तरीका थोड़ा अलग है,हम उमीद पर नहीं अपनी जिद पर जीते है!!

अगर जींदगी मे कुछ पाना हो तो तरीके बदलो, ईरादे नही..

मजा चख लेने दो उसे गेरो की मोहबत का भी, इतनी चाहत के बाद जो मेरा न हुआ वो ओरो का क्या होगा।

मैं क्यूँ कुछ सोच कर दिल छोटा करूँ…वो उतनी ही कर सकी वफ़ा जितनी उसकी औकात थी…

पिछले बरस था खौफ की तुझको खो ना दूँ कही,अब के बरस ये दुआ है की तेरा सामना ना हो

रेत पर नाम कभी लिखते नहीं, रेत पर नाम कभी टिकते नहीं, लोग कहते है कि हम पत्थर दिल हैं, लेकिन पत्थरों पर लिखे नाम कभी मिटते नहीं।

अच्छे होते हैं बुरे लोग…जो अच्छा होने का नाटक तो नहीं करते॥

दुश्मनों से मोहब्बत होने लगी है… जब से अपनों को अजमाते चले गए॥

उसकी धाक एक दो पर नहीं, सैंकड़ो पर थी… और गिनती भी उसकी शहर के बड़ों बड़ों में थी…द्फ़न केवल छः फ़ीट के गडडे में कर दिया उसको…जबकि ज़मीन उसके नाम तो कई एकड़ों में थी॥

सूखे होंटों पे ही होती हैं मीठी बातें प्यास जब बुझ जाये तो लहजे बदल जाते हैं ..!!

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of